आर टी आई में खुलासा
हिंदु धर्म खतरे में, यह बात पूरी तरह काल्पनिक!

नागपुर :सोशल मीडिया गलत सूचनाओं को फ़ैलाने का सुविधाजनक माध्यम बन गया है। नकली समाचार कई गुना बढ़ गए हैं। इसकी बड़ी संख्या सांप्रदायिक प्रकृति और अनिश्चित लहजे वाली जानकारी है!

इन्हीं बातों को देखते हुए सामाजिक कार्यकर्ता वा आरटीआई एक्टिविस्ट मोहनी जबलपुरे ने केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय से आरटीआई के द्वारा जवाब मांगा क्या हिंदू धर्म खतरे में है.?

गृह मंत्रालय ने आरटीआई का जवाब दिया देश मे हिन्दू खतरे मे है यह बात पूरी तरह काल्पनिक है !

सामाजिक कार्यकर्ता मोहनीश जबलपुरे ने गृह मंत्रालय भारत सरकार से सुचना के अधिकार मे जानकारी मांगी की देश मे हिन्दू धर्म खतरे मे होने के जो प्रमाण आप के विभाग के पास है उसकी प्रत (copy)मिलने हेतू.


तो इस पर गृह मंत्रालय ने देश मे हिन्दू धर्म खतरे मे होने का कोई भी प्रमाण ना होने की जानकारी दी.
गृह मंत्रालय ने आरटीआई के जवाब में में आगे कहा केवल ऐसी सुचना प्रदान करना अपेक्षित है जो उस लोक प्राधिकरण के पास पहले से मौजूद है अथवा उसके नियंत्रण मे है केंद्रीय लोकसूचना अधिकारी द्वारा सुचना सृजीत करना या सुचना की व्याख्या करना या आवेदक द्वारा उठाई गई समस्याओ का समाधान करना या काल्पनिक प्रश्नों का उत्तर देना अपेक्षित नहीं है
आवेदन मे मांगी गई जानकारी अधोहस्ताक्षरी केंद्रीय लोकसूचना अधिकारी के पास उपलब्ध रिकॉर्ड का भाग नहीं है अंतः वांछित सुचना को शुन्य समझा जाये

देश बहुसंख्यक हिंदू धर्म खतरे मे होने की बात हमेशा सामने आती है इस की सच्चाई जानने हेतू सामाजिक कार्यकर्ता मोहनीश जबलपुरे ने यह जानकारी भारत सरकार के गृह मंत्रालय से मांगी!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *