गंगा में मिलीं 2000 लाशें, राहुल गांधी बोले- जो कहता था मां गंगा ने बुलाया है,उसने मां गंगा को रुलाया है

भाजपा शासित उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश में बीते दिनों से ही नदियों में कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों के शवों को बहाए जाने का मामला गरमाया हुआ है।

सोशल मीडिया पर गंगा में तैर रही लाशों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर जमकर वायरल भी हुई है। जिसे देखकर लोगों का गुस्सा भी फूटा.

दरअसल मामला यह है कि कई राज्यों में हजारों की तादाद में कोरोना मरीजों सब तालों में दम तोड़ रहे हैं। ऐसे में मृतक के परिवार वालों को शवदाह ग्रहों में अंतिम संस्कार करने के लिए जगह नहीं मिल पा रही है।

इस मामले में मोदी सरकार विपक्षी दलों के निशाने पर भी बनी हुई है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्विटर पर एक खबर शेयर करते हुए भाजपा पर सवाल उठाए हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा शेयर की गई खबर में बताया गया है कि गंगा किनारे 1140 किलोमीटर में दो हजार से ज्यादा शव पाए गए हैं।

इस खबर में यह भी बताया गया है कि उत्तर प्रदेश के कानपुर के शेरेश्वर घाट में आधा किलो मीटर में ही 400 से ज्यादा शव दफन किए गए हैं।

इस खबर को शेयर करते हुए राहुल गांधी ने लिखा है कि “जो कहता था गंगा ने बुलाया है, उसने मां गंगा को रुलाया है।” राहुल गांधी ने अपने ट्वीट के जरिए सीधे तौर पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है।

बताया जाता है कि उत्तर प्रदेश के कानपुर, कन्नौज, उन्नाव, गाजीपुर और बलिया में हालात काफी ज्यादा खराब है। कन्नौज और कानपुर में गंगा किनारे पानी में लाशें ही लाशें नजर आ रही हैं।

प्रशासन इन लाशों पर मिट्टी डालने का काम कर रहा है। लेकिन बारिश के बाद मिट्टी में दफन किए गए सब बाहर निकल आए। जिसके बाद अब प्रशासन लोगों से यह अपील कर रहा है कि मृतकों के शवों को नदियों में ना बहाया जाए। बल्कि उनका अंतिम संस्कार किया जाए।

इसके साथ ही पुलिस भी अब नदियों के किनारों पर तैनात की जा चुकी है। जो कि इस बात की निगरानी कर रही है कि कोई वहां पर शव को दफन ना करें या फिर नदी में ना बहाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *