नागपुर : गैस सिलेंडर को फूल चढ़ाकर निकाली महंगाई की शवयात्रा

118

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि देश में भयंकर रूप से महंगाई बढ़ रही है। जनता रसोई गैस, पेट्रोल, डीजल, खाद्य पदार्थों के दामों में वृद्धि होने से पहले से ही महंगाई से जूझ रही थी। मार्च में रसोई गैस सिलेंडर के दाम बढ़ गए। अब गरीब और मध्यम वर्ग के परिवार पर बढ़ती महंगाई भारी पड़ रही है।

नागपुर : रसोई गैस सिलेंडर के दाम बढ़ाए जाने के विरोध में रविवार को शहर युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गैस सिलेंडर की शव यात्रा निकाल कर अनोखे ढंग से केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने संविधान चौक पर शहर अध्यक्ष तौसिफ खान के नेतृत्व में शोक सभा रखकर गैस सिलेंडर दर वृद्धि पर सरकार को घेरा, केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई. घरेलू गैस सिलेंडर के दाम में 50 रुपए और कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमत में 350 रुपए की दर वृद्धि की गई है.युकां की ओर से कहा गया कि केंद्र सरकार अपनी मनमानी से आम जनता को तकलीफ में डाल रही है. सरकार 2014 के बाद से महंगाई को काबू करने में पूरी तरह विफल रही है. 2014 में जब गैस सिलेंडर के दाम 500 रुपए थे तब केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी गैस सिलेंडर को सामने रखकर विरोध जताती थीं. लेकिन अब वे मौन हैं. युकां ने चेताते हुए कहा कि जल्द ही गैस सिलेंडर के दाम कम नहीं किए गए तो तीव्र आंदोलन शुरू करेंगे. इस दौरान आकाश गुजर, जॉन कार्य विरोध ऑगस्टीन, अनिरुद्ध पांडेय, राहुल कैरकर, उनक रमन कलवाले, अनोश नियोगी, निजाम खान, सदस लेंडर के रौनक दाराम, अंशुल लोखंडे, उज्ज्वल खापर्डे है मुख्य रूप से उपस्थित थे.