Ajmer Maulana Murder: अजमेर की मोहम्मदी मस्जिद में घुसकर मौलाना की हत्या, 3 नकाबपोशों की तलाश में जुटी पुलिस

62

Rajasthan Crime: अजमेर के कंचन नगर इलाके में स्थित मोहम्मदी मस्जिद के मौलाना की तीन अज्ञात बदमाशों ने डंडो से पीट-पीट कर हत्या कर दी है. इस वारदात से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है.

Rajasthan News: राजस्थान की 25 लोकसभा सीटों पर वोटिंग पूरी होने के अगले ही दिन अजमेर में तीन अज्ञात बदमाशों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है. शनिवार सुबह जिले के कंचन नगर में स्थित मोहम्मदी मस्जिद के मौलाना की हत्या का मामला सामने आया है, जिससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है. मस्जिद के अंदर उनकी डंडो से पीट-पीट कर हत्या की गई है, और बदमाश वहां से फरार हो गए हैं. शनिवार सुबह से ही पुलिस की टीम मौके पर जांच में जुटी हुई है और सीसीटीवी खंगाल रही है, जिसमें तीन नकाबपोश नजर आ रहे हैं. हालांकि अभी तक पुलिस को हत्या के कारण का पता नहीं लग पाया है.

यूपी के रहने वाले थे मौलाना

रामगंज थाना प्रभारी रविंद्र खींची ने जानकारी देते हुए बताया कि रात करीब तीन बजे थाने पर सूचना मिली कि कंचन नगर गांव में मस्जिद के पास बने एक कमरे में मौलाना की अज्ञात बदमाशों ने डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी. हत्या की सूचना पर मौके पर पहुंचे और आसपास जमा हुए लोगों से मामले की जानकारी जुटाई और अज्ञात हमलावरों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान शुरू कर दिया. थाना प्रभारी ने बताया कि मृतक मौलाना का नाम मोहम्मद माहिर है जो यूपी के रामपुरा का निवासी है. अभी यह मस्जिद में मौलाना के पद पर थे, और छोटे बच्चों को पढ़ाते थे.

6 बच्चों के सामने की हत्या.

पुलिस के अनुसार, बीती रात मौलाना मस्जिद में बने कमरे में 6 बच्चों के साथ सो रहे थे. इसी बीच तीन बदमाश मुंह पर नकाब पहनकर आए और गेन्ती के डंडों से मौलाना की पीट-पीटकर हत्या कर दी. हत्या के दौरान छोटे बच्चे चिल्लाने लगे तो हमलावरों ने बच्चों को चुप कराया और उन्हें धमकी देते हुए कहा कि अगर चिल्लाए तो तुम्हें भी जान से मार देंगे. थाना प्रभारी के अनुसार, घटनास्थल का मौका मुआयना करने पर मौलाना का फोन भी मौके से बरामद नहीं हुआ. छोटे बच्चों से पूछताछ में जानकारी मिली कि हमलावर मौलाना का मोबाइल भी ले गए. हमलावरों को अंदेशा था कि बच्चे किसी को फोन ना कर दें, इसलिए हमलावर मौलाना का मोबाइल अपने साथ ले गए।

डॉग स्क्वायड की मदद से छानबीन.

बच्चों से पुलिस पूछताछ में बच्चों ने बताया कि मस्जिद के पीछे वाले रास्ते से तीनों हमलावर आए और तीनों के हाथों में डंडे थे. आते ही उन्होंने मौलाना पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया. इसके बाद तीनों बदमाश उसी रास्ते से फरार हो गए. बताया जा रहा है कि तीनों हमलावरों का मस्जिद में आना जाना था. मौलाना से किस बात का विवाद होना भी सामने आ रहा है. हर एंगल से पुलिस इस केस की जांच कर रही है. घटनास्थल से हमलावरों के सुराग का पता लगाने के लिए एफएसएल और डॉग स्क्वायड की टीम को मौके पर बुलाया गया है, और छानबीन जारी है.