मध्य नागपुर में जलापूर्ति की समस्या पर प्रशासन मौन, मध्य नागपुर राकांपा ने किया ओसीडब्लयू का घेराव

70

मध्य नागपुर में जलापूर्ति की समस्या पर प्रशासन मौन

ओसीडबल्यु. का मध्य नागपुर राकांपा ने किया घेराव

नागपुर= शहर में पानी की समस्या हर दिन बढ़ते ही जा रही है। नागरिकों की बार-बार शिकायत करने पर भी प्रशासन मौन है। नागपुर महानगर पालिका ने मार्च 2012 में ऑरेंज सिटी वाटर प्रा. लि. (ओसीडबल्यु.) को पूरे शहर में 24 घंटे पानी देने की ज़िम्मेदारी दी थी। 11 साल पूरे होने के बाद भी नागरिक पानी के लिए तरस रहे है। पानी सभी की बुनियादी ज़रूरत है और ज़िन्दा रहने के लिए आवश्यक है। शायद यह जानकारी ऑरेंज सिटी वाटर प्रा. लि. को शायद नहीं है।

मध्य नागपुर राष्ट्रवादी काँग्रेस पार्टी की ओर से माजी गृह मंत्री अनिल देशमुख  व शहर अध्यक्ष दुनेश्वर पेठे  के मार्गदर्शन में एवं मध्य नागपुर अध्यक्ष रिज़वान अंसारी के नेतृत्व में एक शिष्ठ मंडल ने सतरंजीपुरा झोन ओसीडबल्यु. कार्यालय के प्रचालन एवं अनुरक्षण अधिकारी नितीन गुल्हाने  को ज्ञापन सौंपते हुए बताया कि मध्य नागपुर के कई भागों में जलापूर्ति नहीं हो रही है। जबकि पानी का भुगतान बराबर लिया जा रहा है। अगर ग्राहक द्वारा भुगतान करने में देरी हो जाती तो उस पर ब्याज दर लगाने में ओसीडबल्यु. देरी नहीं करती है। सुचारु प्रणाली से काम नहीं होने के कारण 24 घंटे में सिर्फ 15 मिन्ट पानी आता है। अभी यह हाल है तो और गर्मी बढ़ने पर पानी की बूंदो के लिए भी तरसना पड़ सकता है। ओसीडबल्यु. के कर्मचारी तकनीकी समस्या का बहाना करके जनता की भावनाओं से खेल रहे है। जनता ओसीडबल्यु. के कार्य से त्रस्त है। समय आने पर मुंह तोड़ जवाब देगी।

राष्ट्रवादी काँग्रेस पार्टी मध्य नागपुर ने अवगत कराया कि मोमिनपुरा, भानखेड़ा, अन्सार नगर, गांजाखेत, डोबी, टिमकी, पांचपावली, तकिया, हंसापुरी आदि कई क्षेत्रों में जलापूर्ति की समस्या बढ़ते जा रही है। इन क्षेत्रों में पिछले 20 दिनों से पानी 15 मिनट से ज्यादा नहीं आया है। इन तमाम क्षेत्रों में जलापूर्ति की समस्या का तुरंत नियमित तरीके से समाधान करना चाहिए। पेजल कटौती पर विराम लगाना चाहिए। अगर ओसीडबल्यु. कंपनी जलापूर्ति करने में असमर्थ है तो उसे तुरंत अपनी ज़िम्मेदारी नागपुर महानगर पालिका को वापस कर देनी चाहिए और जनता को चैन से जीने देना चाहिए।
क्या कहा ओसीडब्ल्यू के अधिकारियों ने
 ओसीडबल्यु. के अधिकारियों ने नागरिकों को कष्ठ होने पर खेद व्यक्त करते हुए कहा कि हम विश्वास दिलाते है, इन समस्याओं का तुरंत समाधान हो जाएगा और 1 महीने के भीतर 24 घंटे की लाईन चालु कर दी जाएगी।

ज्ञापन सौंपने समय मो. इद्रीस (मुन्ना भाई), जावेद खान, रियाज़ खान, मो. जावेद अंसारी, मो. वसीम अंसारी, हसन मलिक, फज़ल अंसारी, मोहसिन अंसारी, वसीम अकरम अंसारी, नदीम अंसारी, मो. शकील, मो. अकील अंसारी, मो. वकील, मो. अज़हर, मो. इरफान, आसिम अंसारी, मोहसिन शाही, वकार हनीफ, अहवाज़ खान, अज़लान शेख, सकलैन शेख, सादिक अंसारी आदि कई पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं का समावेश था।