नागपुर: बलात्कारी आसाराम बापू की लगी होर्डिंग,महिला कांग्रेस ने पोती कालक

95

नागपुर : महिला काँग्रेस अध्यक्षा नॅश नुसरत अली के नेतृत्व में बलत्कार की सजा काट रहे आसाराम बाबू की स्तृति करने वालों की जमकर भत्सर्ना की और स्थानिय बैद्यनाथ चौक पर आसाराम की फोटो लगे विशालकाय पोस्टर पर कालिख रगड़ी। आसाराम के घृनित कृतों के खिलाफ नारेबाजी की गई और डीसीएम देवेन्द्र फड़णवीस पर भी आरोपो के गोले दागे । सनद रहे कि कथित संत

आसाराम बाबू का पोस्टर दक्षिण-पश्चिम विधानसभा क्षेत्र में लगा होने से महिला काँग्रेस की कार्यकर्ताओं ेने यहा के विधायक और राज्य के गृह मंत्री देवेन्द्र फड़णवीस को इसका जिम्मेदार ठहराया। कार्यक्रम में महिला सुरक्षा पर सवालिया निशान जड़ते हुये महिला काँग्रेस की अध्यक्षा नॅश अली ने कहा कि, नागपुर शहर राज्य के उपमुख्यमंत्री एंव गृहमंत्री का गृहक्षेत्र है। इस पर और तुर्रा, जिस इलाके में आसाराम का पोस्टर तैनात है, वह छेत्र फड़णवीस के निर्वाचन क्षेत्र में आता है। अब ऐसी परिस्थिती में महिला सुरक्षा को लेकर गंभीर प्रश्नो का जन्म लेना तो स्वाभाविक है। नॅश ने आसाराम जैसे बलत्कारीयों की महिमामंडन करने वालों की निंदा करते हुये उन पर कड़ी कानूनी कार्रवाही करने की भी मांग की है।कार्यक्रम में भारी संख्या में महिला पदाधीकारी एंव कार्यकर्ताओं की उपस्थिती रही, जिसमें प्रमुख्ता से कल्पना गाडगे, संगीता खापर्डे, गीता जलगांवकर, ऍड, वंदना चहांदे, नंदा अतकरे, कल्पना द्रोणकर, मायाताई धापोडकर, भानुमती नंदनवार, रजनी राऊत, राणी सालवे, वंदना शेवतकर, किरण मोहिते, समता गणवीर, रेखा गारोडी, त्रिवेणी नंदनवार, किरण रणदिवे, रोशनी पराते, स्मिता खवासे, संगीता खवासे, पुष्पा नररारे, कविता घुबडे, अनुष्का वानखेडे आदी के नाम शामील है।