नायलॉन मांजे के विरुद्ध सख्त कानून बनाने के लिए राकांपा का ज्ञापन

12

नायलॉन मांजे के विरुद्ध सख्त कानून बनाने के लिए राकांपा का ज्ञापन

नागपुर शहर संत्रानगरी में पुलिस प्रशासन के तमाम प्रयास करने के बावजूद भी नायलॉन मांजा खुल्लम-खुल्ला धड़ल्ले से बिक रहा है। शहर में नागरिकों के शरीर के कटते अंग इसकी पुष्टि भी कर रहे है। पुलिस विभाग के बड़े-बड़े दावे गलत साबित हो रहे है। प्रशासन सिर्फ दावे कर रहा है लेकिन सच्चाई यह है कि अब भी नायलॉन मांजा धड़ल्ले से बेचा जा रहा है। HC के सख्त आदेश के बाद भी प्रशासन अंकुश लगाने में असमर्थ दिखाई पड़ता है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी मध्य नागपुर के एक प्रतिनिधि मंडल ने शहर अध्यक्ष दुनेश्वर पेठे व जिला परिषद सदस्य सलील देशमुख के मार्गदर्शन में तथा मध्य नागपुर विधानसभा अध्यक्ष रिज़वान अंसारी के नेतृत्व में पुलिस आयुक्त कार्यालय जाकर संयुक्त पुलिस आयुक्त अस्वथी दोरजे को ज्ञापन सौंपा। शहर में नायलॉन मांजा के विरुद्ध पुलिस प्रशासन की कार्रवाई एवं सख्त कानून बनाने पर चर्चा करते हुए नागरिकों की सुरक्षा और पर्यावरण बचाने की मांग की गई। रिज़वान अंसारी का कहना है कि नायलॉन मांजा की खरीद व बिक्री करने वालों के अलावा उपयोग करने वालों पर भी पुलिस कार्रवाई होना चाहिए। नायलॉन मांजे के थोक व चिल्लर विक्रेताओं पर दंडात्मक कार्यवाही हो जिससे धागे वाले मांजे का चलन बड़े और पर्यावरण की सुरक्षा की जा सके। नायलॉन मांजा बेचते हुए पकड़े गए आरोपियों से ही पूछताछ कर थोक विक्रेताओं के जाल को हमेशा के लिए समाप्त किया जा सके। नायलॉन मांजे में पकड़े गए आरोपियों पर कोई गंभीर कार्यवाही नहीं होती है, इसमें ज्यादा से ज्यादा 188 की धारा और पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1986 के तहत कार्यवाही होती है इसलिए इस विषय पर सख्त कानून बनाने की आवश्यकता है ताकि नागरिकों की सुरक्षा की जा सके और नायलॉन मंजे से दुर्घटना होने पर अज्ञात व्यक्ति के नाम से एफ.आई.आर. दर्ज हो सके।

तमाम मांगों को संज्ञान में लेते हुए संयुक्त पुलिस आयुक्त ने बताया कि प्रशासन की ओर से एक व्हाट्सएप नंबर 98233 00100 जारी किया गया है। इस विषय पर खरीद व बिक्री करते हुए कोई व्यक्ति दिखता है तो उसकी जानकारी व्हाट्सएप नंबर द्वारा भेज सकते है। इस बात पर जोर देते हुए आश्वस्त किया गया की जानकारी देने वाले व्यक्ति की पहचान गुप्त रखी जाएगी। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी जनता से अपील करती है कि दिए गए व्हाट्सएप नंबर पर बिना झिझक जानकारी दें और नागरिक सुरक्षा व पर्यावरण संरक्षण में योगदान दें।

प्रतिनिधिमंडल में प्रमुखता से शहर प्रवक्ता नुतन रेवतकर, संतोष सिंह, वरिष्ठ शहर उपाध्यक्ष पुरुषोत्तम वाडीघरे, शहर सचिव इसराईल अंसारी, अज़हर पटेल, मध्य नागपुर उपाध्यक्ष वकार हनीफ, ईश्वर गुंगावकर, शफीक अख्तर आदि उपस्थित थे।