मणिपुर मामले पर फेक ट्वीट कर न्यूज़ एजेंसी ANI ने मुसलमानों को बदनाम करने की कोशिश की ? बाद में ट्वीट किया डिलीट

104

मणिपुर मामले को मुस्लिमों से जोड़ने की शुरुआत ! इंफाल पुलिस ने अब्दुल हलीम नामक युवक को PREPAK से जुड़े होने के आरोप में गिरफ्तार किया है, लेकिन न्यूज़ एजेंसी ANI ने उस व्यक्ति को “निर्वस्त्र कर घुमाने और गैंगरेप मामले” से जोड़कर ट्वीट किया जो कि दोनों ही मामले बिल्कुल अलग थे,सच्चाई सामने आने पर ANI ने कुछ देर बाद ही ट्वीट डिलीट कर दिया लेकिन सत्ताधारी पार्टी से जुड़े हुए व्यक्ति उस फेक न्यूज़ को बढ़ावा देने में लगे हुए हैं!

आपको बता दे “महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने,गैंगरेप मामला” थोबल जिले का है और PREPAK मामले में गिरफ्तारी मामला ईस्ट इंफाल का है,यह दोनों मामले अलग है लेकिन राइट विंगर फ़र्ज़ी न्यूज़ फ़ैला इस घटना को मुस्लिम एंगल दे कमज़ोर करने की कोशिश कर रहे है देशवासियों को इस मामले को संज्ञान में रखते हुए नफऱती चिंटुओं से होशियार रहने की आवश्यकता है!