UP/जिस स्कूल में टीचर ने मुस्लिम छात्र की बेरहमी से करवाई थी पिटाई, उसे बंद करने का आया आदेश

89

मामले की जांच में पता चला कि स्कूल की मान्यता एक वर्ष पूर्व ही खत्म हो चुकी थी। 2019 में स्कूल ने नर्सरी से कक्षा 5 तक की मान्यता ली थी, जिसकी अवधि 2022 में पूरी हो चुकी है। इसीलिए बिना मान्यता के संचालित स्कूल को बंद करने के आदेश दिए गए हैं।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के मंसूरपुर थाना क्षेत्र के खुब्बापुर गांव में स्थित नेहा पब्लिक स्कूल को बंद करने को आदेश दिया गया है। यह कार्रवाई इस स्कूल में एक शिक्षिका द्वारा एक मुस्लिम छात्र को दूसरे छात्रों से पिटवाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के मामले में की गई है।दो दिन पहले शुक्रवार को इस स्कूल का एक विवादित वीडियो सामने आया था। वीडियो में देखा जा सकता है एक महिला शिक्षक एक मुस्लिम छात्र को अन्य छात्रों से पिटवा रही है और साथ ही मुसलमानों की इसी तरह सुधारने की बात कह रही है। वीडियो वायरल होने बाद मामले की जांच में पता चला कि स्कूल की मान्यता एक वर्ष पूर्व ही खत्म हो चुकी थी।बेसिक शिक्षा अधिकारी शुभम शुक्ला ने बताया कि वर्ष 2019 में स्कूल ने नर्सरी से कक्षा पांच तक की मान्यता ली थी। यह अंतरिम रूप से तीन वर्ष के लिए दी जाती है। इसकी अवधि 2022 में पूरी हो चुकी है। इसके बाद प्रबंधन ने लिए मान्यता रिन्यू नहीं कराया। बिना मान्यता के संचालित स्कूल को बंद करने के आदेश दिए गए हैं। आगे विभागीय कार्रवाई की जा रही है।शुक्रवार को सामने आए वीडियो में स्कूल की महिला शिक्षक एक मुस्लिम बच्चे को उसके सहपाठियों से थप्पड़ लगवाते नजर आ रही थी। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में महिला शिक्षक एक समुदाय विशेष के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी भी करती नजर आ रही है। स्कूल बंद होने के बाद बच्चों का एडमिशन दूसरे स्कूल में कराया जाएगा।